News Uttarakhand

शुरवात फाउंडेशन ने ग्रामीण क्षेत्रो मे कोरोना पर लोगो को किया जागरुक और बांटा कोरोना से संबंधित समान।

     शुरवात फाउंडेशन ने ग्रामीण_सेवा_मिशन_2021 के अंतर्गत प्रथम चरण में दिनांक 26 से 29 मई 2021 में रिखणीखाल ब्लॉक के 32 ग्रामसभा कलीगाड तल्लामंज्याड़ीबुलेखाखनेता तल्लाउनेरीकोटनालीअंगनीघेड़ीसिनालाघोटलाकंडिया मल्लाबयेला तल्लाबयेला मल्लाहिटोलीसेन्दीसुन्द्रोलीसिरवाणासिलबड़ीसिमलसैणदलमोटासिलबड़ीसुलमोड़ीदुन्गधारदेवखरटकोलीबनगढ़अगरोड़ाजुईधमधारझर्तकाण्डाकर्तिया और कुमलडी में ग्राम प्रधान और आशा वर्कर को हर ग्रामसभा में इमर्जेंसी इस्तेमाल की दवा की किटडिजिटल थर्मामीटरपल्स आक्सीमीटरवेपोराइजरसैनेटाईजर, 3 प्लाई मास्ककपड़े के रियूजेबल मास्क और एन 95 मास्क प्रदान किए। आशा या प्रधान इन उपकरणों के उपयोग से इन 32 ग्रामसभाओं के लगभग 75 गांवों के लोगों पर नजर रखेंगे और किसी पर भी कोरोना के लक्षण लगने पर मेडिकल औफिसर, रिखणीखाल या  नजदीकी  डॉक्टर को काल करके सूचित करेगें और उनके निर्देशानुसार ही  हमारी दी हुई दवा की किटों से संभावित रोगी को दवा मास्क थर्मामीटर व सैनेटाईजर आदि उपलब्ध कराएगे। इस प्रकार जल्दी पहचान कर उपचार एंव रोकथाम में मदद मिलेगी तथा भविष्य में इन गाँवों के लोग आने वाली कोरोना लहरों का मुकाबला करने में सक्षम होंगे

इसके अतिरिक्त प्राथमिक चिकित्सा केंद्र, एवं पुलिस थाना, रिखणीखाल में भी इन सभी सामानों के अतिरिक्त इन्फ्रारेड थर्मामीटरपीपीई किट एवं आक्सीजन कन्सनट्रेटर दिया गया। कुछ चुने हुए लोगो को भी इन्फ्रारेड थर्मामीटर दिया गया ताकि बाज़ार या अन्य अधिक जनसंख्या वाली जगहों पर बिना किसी को छुए संभावित संक्रमितों की पहचान की जा सके।  फाउंडेशन शुरवात वालंटियर गरिमा सुन्द्रियाल द्वारा सामान वितरण के अलावा उन्हें कोरोना बिमारी में इसके इस्तेमाल का तरीका भी बताया। शुरवात फाउंडेशन के अध्यक्ष श्री दीपक ध्यानी ने बताया कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं ग्राम प्रधानों के फीडबैक के अनुसार भविष्य में इस ग्रामसभाओं को और सहायता दी जाएगी। शुरवात फाउंडेशन अपनी क्षमताओं और संसाधनों का लाभ भविष्य में रिखणीखाल की सभी 81 ग्रामसभाओं में पहुचाया जायेगा। स्थानीय जिला पंचायत सदस्य शालिनी बलोधी एवं स्थानीय जनसेवकों ने इस प्रोजेक्ट में हिस्सा लिया और सभी ग्राम सभाओं को इससे  जोड़ा एवं दिए गए सामन का समुचित सदुपयोग करवाने का वचन दिया।  शुरवात फाउंडेशन के सदस्यों, सहयोगी एवं अन्य सहयोगी सँस्थाओं ने इस सम्बन्ध में कई दीर्घकालिक योजनाओं पर काम करने में सहमति जताई है ताकि ग्रामीण सेवा मिशन को समयबद्द तरीके से पूरा किया जा सके। 

 

फाउंडेशन शुरवात (FOUNDATION SHURWAAT)

फाउंडेशन शुरवात (FOUNDATION SHURWAATरिखणीखाल ब्लाक में सन 2006 से अन्य कार्यों के अतिरिक्त शिक्षा एवं व्यावसायिक शिक्षा के क्षेत्र में कार्य कर रहा है।  इसके अंतर्गत  कुलानीखालखनेताखालरिखणीखालटकोलीखाल एवं कर्तिया इन्टर कॉलेज में प्रत्येक वर्ष संस्था 200 से ज्यादा विद्यार्थियों को छात्रवृति प्रदान करती है,  तथा व्यावसायिक शिक्षा के लिए प्रोतसाहित  भी  करते  और अनुदान  भी प्रदान करती है। शुरवात फाउंडेशन ने केदारनाथ आपदा के बाद 2013 से 2016 तक 3 दूरस्थ गांवो में 14 कोऑपरेटिव चला के 250 से जायदा परिवारों लोगों  को रोज़गार प्रदान करने की कोशिश की ये सारी कोऑपरेटिव आज भी लोगों को रोज़गार मुहैय्या करा है। उत्तराखंड के पहाड़ी क्षेत्रो के विधार्थियों के शेक्षिक एवं बौद्धिक विकास तथा  ग्रामीण  क्षेत्र  के  आर्थिक  एवं  सामजिक  विकास के लिए शुरवात फाउंडेशन प्रतिबद्द है

 

पहाड से जुडी अन्‍य खबरो के लिए हमारे युटयुब्‍ चैनल को सबस्‍काईब करे


Source link

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please Disable your Adblocker